PG और UG का Full Form क्या है | UG व PG में क्या अंतर है [2024]

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका फुल फॉर्म से सम्बंधित एक और नयी पोस्ट पर जिसमे हम आपको PG और UG का Full Form क्या है और PG और UG क्या होता है से सम्बंधित पूरी जानकारी विस्तार से देने वाले है।

क्या आपने पहले कभी UG के बारे में सुना हुआ है? अगर आप School या College में है तो आपने शायद UG और PG के बारे में जरूर सुना हुआ होगा। लेकिन क्योकि आप इस पोस्ट पर आये है इसका मतलब है की आपको UG का पूरा नाम नहीं पता है या आप इसके बारे में जानना चाहते है?

अगर आपका जवाब हां है तो आपको इस पोस्ट में UG की Full Form और UG क्या होता है से सम्बंधित पूरी जानकारी विस्तार से मिलने वाली है साथ ही पोस्ट के अंत में हम UG से सम्बंधित और भी फुल फॉर्म के बारे में बात करने वाले है इसलिए पोस्ट को अंत तक ध्यानपूर्वक पूरा जरूर पढ़े।

PG और UG का Full Form क्या है

PG और UG का Full Form क्या है

अगर शिक्षा के क्षेत्र में यूजी के फुल फॉर्म को देखे तो UG का पूरा नाम Under Graduate होता है जिसे हिंदी में अंडर ग्रेजुएट या “स्नातक के तहत” भी कहा जा सकता है। UG के साथ-साथ आपको एक नाम और सुनने को मिलता होगा PG और अगर आपको इसका पूरा नाम नहीं पता है तो आपको बता दे PG का फुल फॉर्म Post Graduate होता है जिसे हिंदी में “पोस्ट ग्रेजुएट” कहते है।

UG & PG Full Form in Hindi

Short Form Full Form Hindi Meaning
UG Full Form Under Graduate अंडर ग्रेजुएट
PG Full Form Post Graduate पोस्ट ग्रेजुएट

इस प्रकार अब तक आपको UG Full Form in Hindi और PG Full Form in Hindi की अच्छे से जानकारी मिल गयी होगी तो चलिए अब UG और PG क्या है इसके बारे में जान लेते है।

UG (Under Graduate) क्या होता है

अगर बात करे UG का अर्थ क्या होता है या UG का मतलब क्या होता है तो इसके बारे में आपको पता चल गया होगा की UG का मतलब Under Graduate होता है। UG या Under Graduate उन्हें कहा जाता है जिन्होंने अपनी बाहरवीं की पढाई पूरी करने के बाद कोई बैचलर डिग्री प्राप्त की हो।

उदाहरण के लिए मान लीजिये आपने अपनी बाहरवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद BA (Bachelor of Arts) की 3 साल की डिग्री पूरी कर ली है तो अब आप अंडर ग्रेजुएट कहलाते है जिसे हिंदी में स्नातक कहते है।

UG के अंदर और भी बहुत से कोर्सेज आते है जैसे B.com/BBA/B.A/BSC/BCA/B.Tech/BE/ BESc/ BSE/ BASc/ B.Tech आदि। अगर आप इनमे से कोई भी बेचलर डिग्री पूरी कर लेते है तो उसके बाद आप कह सकते है की आप Under Graduate है।

UG (Under Graduate) Course के लिए योग्यता

UG या Under Graduate होने के लिए आपके पास कुछ योग्यताये होनी आवश्यक है जिनके बारे में नीचे बताया गया है।

  1. आपका 12वीं कक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  2. अगर आप किसी अच्छे सरकारी कॉलेज में प्रवेश चाहते है तो आपके 12th में अच्छे मार्क्स होना भी आवश्यक है।
  3. UG Courses 3 साल के होते है जिसमे आप अलग-अलग सब्जेक्ट के अनुसार कोर्सेज सिलेक्ट कर सकते है।
  4. UG Course को आप अपने स्ट्रीम के अनुसार 4 सब्जेक्ट में पूरा कर सकते है।
  5. UG Course के लिए अलग अलग कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया अलग-अलग होती है जिसे पूरा करना आवश्यक है।

इस प्रकार अगर आपने अपनी 12th Class पास कर ली है तो अब आप किसी भी UG Course में प्रवेश लेकर Under Graduate की डिग्री पूरी कर सकते है।

PG (Post Graduate) क्या होता है

PG का मतलब क्या होता है या PG के अर्थ की बात करे तो जैसा की हमने ऊपर बताया PG का पूरा नाम Post Graduate (पोस्ट ग्रेजुएट) होता है। PG या Post Graduate एक प्रकार की मास्टर डिग्री होती है जिसे करने के लिए आपको पहले अपनी ग्रेजुएशन करना आवश्यक है।

मतलब की अगर आपने अपनी ग्रेजुएशन पूरी कर ली है और उसके बाद आप उस विषय में मास्टर डिग्री प्राप्त कर लेते है तो आप Post Graduate कहलाते है।

Post Graduate होने के लिए अब बहुत से अलग अलग कोर्सेज कर सकते है जैसे M.com/MBA/ M.A/MSC/ MCA/M.Tech/MASc/M.Tech आदि।

उदाहरण के माध्यम से समझे तो मान लीजिये आपने अपनी BA की 3 साल की पढ़ाई पूरी कर ली है और आप Under Graduate हो गए है तो अब आप MA की पढ़ाई कर सकते है और जब आपकी MA की पढ़ाई पूरी हो जाती है तो आप Post Graduate कहलाते है।

(PG) Post Graduate Course के लिए योग्यता

Post Graduate होने के लिए भी आपके पास कुछ योग्यता होना आवश्यक है जिन्हे आप निम्न्लिखित बिंदुओं के माध्यम से समझ सकते है।

  1. Post Graduate होने के लिए आपको किसी विषय की मास्टर डिग्री पूरी करनी होती है।
  2. मास्टर डिग्री की पढ़ाई करने के लिए आपकी ग्रेजुएशन पूरी होना आवश्यक है।
  3. Under Graduate के बाद ही आप Post Graduate हो सकते है।

इस प्रकार अब आप अच्छे से UG और PG के बारे में जान गए होंगे तो चलिए अब UG और PG में अंतर के बारे में जान लेते है।

UG और PG में क्या अंतर है

UG (Under Graduate) और PG (Post Graduate) के मध्य के अंतर को आप निम्न्लिखित सारणी के माध्यम से आसानी से समझ सकते है।

S.no.UG (Under Graduate) PG (Post Graduate)
1अंडर ग्रेजुएशन (स्नातक)पोस्ट ग्रेजुएशन
2 UG एक बेचलर डिग्री है। PG एक मास्टर डिग्री है।
3 12th के बाद UG का कोर्स किया जाता है। UG करने के बाद PG का कोर्स किया जाता है।
4 इसकी अवधि 3 और 4 साल की होती है। इसकी अवधि 2 से 3 साल तक की हो सकती है।
5 UG Courses – BA, BSc, B.tech आदि। PG Courses – MA, MSc, M.tech आदि।

इस प्रकार अब आपको अच्छे से PG और UG का Full Form क्या है और UG (Under Graduate) और PG (Post Graduate) के मध्य अंतर के बारे में पता चल गया होगा।

UG करने के क्या-क्या फायदे होते है

अगर आप अपनी 12th की पढ़ाई करने के बाद अंडर ग्रेजुएशन का कोर्स कर लेते है तो इसके बहुत से फायदे हो सकते है जो की निम्न्लिखित है।

  1. ग्रेजुएशन करने के बाद आप अपना जॉब प्रोफाइल बदल सकते है।
  2. यह आपके करियर को अच्छे स्तर पर पहुंचाने में मदद करता है।
  3. ग्रेजुएशन करने के बाद आप लगभग सभी तरह की गवर्नमेंट जॉब एग्जाम देने के योग्य हो जाते है।
  4. ग्रेजुएशन के बाद आप बहुत से प्राइवेट जॉब भी अच्छी सैलरी के साथ कर सकते है।

वैसे तो ग्रेजुएशन करने के बाद आपके पास करियर के बहुत से ऑप्शन होते है लेकिन अगर आप ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर लेते है तो आपकी Opportunities और भी बढ़ जाती है।

PG के बाद Job Opportunities क्या क्या है

Post Graduate होने के बाद आपके पास बहुत से अलग-अलग क्षेत्रों में जॉब के अवसर होते है जिनका आप फायदा उठा सकते है और एक अच्छी इनकम की जॉब प्राप्त कर सकते है तो चलिए जानते है इनके बारे में।

1. Banking के क्षेत्र में

अगर आपने कुछ ऐसे कोर्सेज में पीजी किया है जो की फाइनेंस या बैंकिंग से जुड़े हुए हो जैसे MBA, M.Com आदि तो आप आसानी से बैंकिंग के क्षेत्र में एक अच्छा करियर बना सकते है।

बैंकिंग के क्षेत्र में आप जॉब के लिए बहुत से पदों पर कार्यरत हो सकते है जैसे ब्रांच मैनेजर, केशियर, लोन मैनेजर, बैंक क्लर्क, ऑपरेशन मैनेजर इत्यादि।

2. IT (Information Technology) के क्षेत्र में

अगर आपने अपनी पीजी IT Field यानि की Information Technology के क्षेत्र में की है तो आप IT में भी अपना करियर बना सकते है।

IT Sector में आप बहुत से अलग अलग प्रकार की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है जैसे Software Engineer, Product Manager, Software Developer इत्यादि।

3. Private & Co-Operative क्षेत्र में

अगर आप पोस्ट ग्रेजुएट है तो आप इस क्षेत्र में भी अपना हाथ आजमा सकते है और इस क्षेत्र में भी आप एक अच्छे पैकेज की सैलरी के साथ जॉब कर सकते है।

इसके अलावा भी आपके पास बहुत सी अलग अलग जॉब के ऑप्शन उपलब्ध रहते है जिसमे से बहुत से जॉब आप ग्रेजुएशन के बाद भी कर सकते है लेकिन अगर आप पोस्ट ग्रेजुएट है तो आपको ग्रेजुएशन वाले व्यक्ति की तुलना में ज्यादा सैलरी मिल जाती है।

UG और PG से सम्बंधित अन्य फुल फॉर्म

वैसे तो UG और PG की फुल फॉर्म के बारे में आपने अब तक जान लिया होगा लेकिन इनकी अलग अलग क्षेत्रों में और भी फुल फॉर्म है जिन्हे आप नीचे सारणी में देख सकते है।

S. no.UG Full Form PG Full Form
1 Under Ground Pressure Gas
2 Universal Goal Petrol Generator
3 Unlimited GB Pattern Generator
4 Under Garment Plasma Glucose
5 Unique Game Plasma Gun

आशा है आपको हमारी अब तक की शेयर की जानकारी पसंद आयी होगी तो चलिए अब इस विषय से सम्बंधित कुछ सवाल जवाब देख लेते है।

FAQs:- PG & UG Full Form in Hindi

PG और UG का मतलब क्या होता है?

शिक्षा या कॉलेज के क्षेत्र में PG का मतलब पोस्ट ग्रेजुएट और UG का मतलब पोस्ट ग्रेजुएट होता है।

UG का पूरा नाम क्या होता है?

यूजी का पूरा नाम अंडर ग्रेजुएट (Under Graduate) होता है।

PG का पूरा नाम क्या होता है?

पीजी का पूरा नाम पोस्ट ग्रेजुएट (Post Graduate) होता है।

पिजी में कौन कौन से कोर्स होते है?

पीजी में सारे मास्टर डिग्री के कोर्स आते है जैसे MA, MSc, MBA, M. Com आदि।

यूजी में कौन कौन से कोर्स होते है?

यूजी में सारे बैचलर डिग्री के कोर्स होते है जैसे Bachelor of Arts, Bachelor of Science, Bachelor of Commerce आदि।

UG (Under Graduate) Course कितने साल का होता है?

UG Course लगभग 3 से 4 साल का होता है।

Conclusion –

उम्मीद है आपको हमारी यह पोस्ट PG और UG का Full Form क्या है जरूर पसंद आयी होगी और पोस्ट पढ़ने के बाद आपको Under Graduation और Post Graduation के बारे में और इन दोनों कोर्स के बीच का अंतर अच्छे से समाज आ गया होगा।

अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आयी है तो इसे अपने सोशल मीडिया दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। साथ ही अगर आपको हमारी इस पोस्ट से सम्बंधित कोई भी Doubts है या आप कोई राय देना चाहते है तो हमे कमेंट करके बता सकते है।

Read More Articles:-

मैं kamaikarle.com का Author और Content Writer हूँ। यहाँ हम आपको Online और Offline पैसे कमाने के तरीको के साथ ही तकनिकी, शिक्षा और फाइनेंस से जुडी जानकारी के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Leave a Comment