VDO Full Form in Hindi | VDO कैसे बने योग्यता, सैलरी [2023]

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका हमारी एक और नई पोस्ट VDO Full Form in Hindi पर जिसमे हम आपको VDO के फुल फॉर्म, VDO कैसे बनते है, VDO का क्या काम होता है और इससे जुडी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी शेयर करने वाले है।

दोस्तों हमारे देश में बहुत से सरकारी पदों के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित की जाती है और इन प्रतियोगी परीक्षाओं में बहुत से छात्र भाग भी लेते है।

अलग अलग क्षेत्र में अलग अलग प्रतियोगी परीक्षा आयोजित होती है जैसे शिक्षक बनने के लिए REET की परीक्षा आयोजित की जाती है उसी तरह एक VDO की भी परीक्षा आयोजित की जाती है जिसमे बहुत से छात्र भाग लेते है।

अब जिन्हे VDO के बारे में नहीं पता है की यह क्या होता है या इसका फुल फॉर्म क्या होता है तो उन लोगो के लिए यह पोस्ट काफी महत्वपूर्ण होने वाला है क्योकि इस पोस्ट में हम आपको VDO क्या है और कैसे बन सकते है इसकी पूरी जानकारी देने वाले है।

VDO Full Form in Hindi

VDO के फुल फॉर्म की बात करे तो इसके अलग अलग क्षेत्रों में बहुत से अलग अलग फुल फॉर्म है जिनके बारे में हम इस पोस्ट के अंत में बात करने वाले है। लेकिन उससे पहले इस पोस्ट में हम जिस VDO Full Form के बारे में विस्तार से जानने वाले है इसकी बात कर लेते है।

  • VDO Full Form in Hindi – Village Development Officer

VDO का पूरा नाम Village Development Officer होता है जिसे हिंदी में ग्राम विकास अधिकारी भी कहा जाता है।

VDO का Full Form in Hindi

Short Name Full Form Hindi Meaning
V Village ग्राम
D Development विकास
O Officer अधिकारी

इस प्रकार उपरोक्त सारणी से अब आपको अच्छे से VDO का फुल फॉर्म पता चल गया होगा।

VDO क्या होता है

अगर आप किसी ग्रामीण इलाके में निवास करते है तो आपने कभी न कभी VDO के बारे में जरूर सुना होगा जो की एक ग्रामीण स्तर का एक महत्वपूर्ण सरकारी अधिकारी होता है।

ग्रामीण विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत व्यक्ति उस ग्रामीण क्षेत्र के सभी विकास के कार्यो की देखरेख करता है और उस ग्राम में विकास के नए नए काम करवाता है।

गांवों में VDO को ग्राम सेवक या समाज कल्याण प्रवेक्षक के नाम से भी जाना जाता है। यही मुख्यतः ग्राम पंचायत के साथ मिलकर गांव के विकास का कार्य करते है।

इसके साथ ही ग्राम विकास अधिकारी राज्य और केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओ को अपने अपने क्षेत्र में प्रत्येक जरुरतमंद व्यक्ति तक पहुँचाने का काम करता है।

VDO कैसे बने (ग्रांम सेवक अधिकारी कैसे बने)

ग्राम सेवक अधिकारी बनने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी होती है। VDO बनने के लिए आपको आयोजित परीक्षा को उत्तीर्ण करना होता है साथ ही इस परीक्षा में बैठने के लिए आपके पास आवश्यक योग्यता भी होना आवश्यक है तो चलिए पहले जानते है Village Development Officer बनने के लिए कौन कौन सी योग्यताओ का होना आवश्यक है।

VDO बनने के लिए योग्यता

Village Development Officer बनने के लिए आपके पास निम्न्लिखित कुछ योग्यताये होना आवश्यक है।

  • अभियर्थी का किसी भी संकाय से 12वीं पास होना आवश्यक है।
  • अभियर्थी की उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होना चाहिए।
  • SC/ ST वर्ग को आयु सीमा में सरकार की तरफ से कुछ विशेष छूट दी जाती है।
  • अगर आपकी उम्र 18 वर्ष से कम है तो आप VDO चयन परीक्षा का फॉर्म नहीं भर सकते है।

इस प्रकार अगर आप इन सभी योग्यताओं का पालना करते है तो आप जरूर VDO यानि Village Development Officer बनने के लिए अप्लाई कर सकते है।

VDO बनने के लिए चयन प्रक्रिया

सरकार समय समय पर VDO के पद के लिए वैकेंसी निकलती रहती है जिसके माध्यम से आप ऑनलाइन फॉर्म भरकर सरकार द्वारा आयोजित VDO भर्ती परीक्षा दे सकते है।

जब आप सरकार द्वारा आयोजित VDO परीक्षा को पास कर लेते है तो उसके बाद आपका इंटरव्यू लिया जाता है और अगर आप इंटरव्यू भी क्लियर कर देते है तो उसके बाद एक मेरिट निकाली जाती है जिसके माध्यम से आपको VDO का पद मिलता है।

अगर आपकी मेरिट हाई है तो आपको VDO का पद प्राप्त हो जाता है यानि की उसके बाद आप एक ग्राम विकास अधिकारी के रूप में कार्यरत हो सकते है।

VDO (Village Development Officer) के कार्य

Village Development Officer या ग्राम विकास अधिकार के अंतर्गत बहुत से अलग अलग कार्य होते है जो इस पद पर कार्यरत व्यक्ति को पुरे करने होते है।

अगर आप भी ग्राम विकास अधिकारी बनने का सपना देख रहे है तो आपको इन कामो के बारे में जरूर पता होना चाहिए जिनके बारे में नीचे बताया गया हैं।

  1. गांव में विकास का कार्य करवाना।
  2. सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओ का लाभ लोगो तक पहुँचाना।
  3. खाद भण्डारण के लिए स्थानों का आवंटन करना।
  4. गांव की स्वच्छता की व्यवस्था करना।
  5. बच्चों के लिए शिक्षा की व्यवस्था करना।
  6. गांव में बिजली पानी की व्यवस्था करना और सड़क का निर्माण करवाना।
  7. गावो में होने वाले वार्षिक कार्यकर्मो का अच्छे से सञ्चालन करवाना।

इस प्रकार इसके अतिरिक्त और भी बहुत से काम ग्राम विकास अधिकारी के अंतर्गत आते है जिन्हे एक VDO के पद पर कार्यरत व्यक्ति पुरे करवा सकता है।

VDO की सैलरी कितनी होती है?

ग्राम विकास अधिकारी बनने के बाद आपको सरकार की तरफ से मासिक वेतन दिया जाता है जिसमे आपका वेतन 5200 रूपए से 20200 रूपए तक का होता है।

इसके अलावा अगर आपका कार्य अच्छा रहता है तो आपका VDO के पद से Assistant Development Officer के पद पर प्रमोशन हो जाता है।

FAQs:- VDO का फुल फॉर्म क्या होता है

VDO का फुल फॉर्म क्या होता है?

VDO का पूरा नाम Village Development Officer होता है जिसे ग्राम विकास अधिकारी कहते है।

Village Development Officer की सैलरी कितनी होती है?

ग्राम विकास अधिकारी का वेतन 5200 से 20200 रूपए महीना तक होता है।

Village Development Officer के लिए आयु सीमा कितनी होती है?

ग्राम विकास अधिकारी बनने के लिए अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष (विशेष वर्ग के लिए अतिरिक्त छूट) और न्यूनतम आयु 18 वर्ष होती है।

VDO का मुख्य काम क्या होता है?

VDO यानि ग्राम विकास अधिकारी का मुख्य काम गांव के विकास कार्यो की देखभाल करना होता है।

Conclusion –

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट VDO Full Form in Hindi जरूर पसंद आयी होगी और इस पोस्ट में साझा VDO Syllabus in Hindi, VDO की सैलरी कितनी होती है सम्बंधित जानकारी आपके लिए उपयोगी रही होगी।

अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आयी है तो इसे अपने सोशल मीडिया दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और साथ ही अगर आपको हमारी इस पोस्ट से सम्बंधित कोई भी Doubts है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये।

More Articles:-

मैं kamaikarle.com का Author और Content Writer हूँ। यहाँ हम आपको Online और Offline पैसे कमाने के तरीको के साथ ही तकनिकी, शिक्षा और फाइनेंस से जुडी जानकारी के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Leave a Comment